रायगढ़ । कलेक्टर भीम सिंह ने आज समय-सीमा की बैठक ली। बैठक में कलेक्टर श्री सिंह ने कृषि अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि किसानों को दलहन-तिलहन के बीज भी सहकारी समितियों से ऋण के रूप में मिलेंगे। इसके लिये उन्होंने सभी सहकारी समितियों में दलहन-तिलहन की फसलों के बीज पर्याप्त मात्रा में रखने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत शामिल सभी फसलों के बीज जिले में उपलब्ध है। उन्होंने सभी एसडीएम को निर्देशित करते हुये कहा कि गत वर्ष धान की फसल लेने वाले किसानों को दलहन-तिलहन एवं अन्य फसलों को लेने के लिये प्रोत्साहित करें। जिससे उन्हें योजना के तहत प्रति एकड़ 10 हजार रुपये इनपुट सब्सिडी का लाभ मिलेगा। उन्होंने जिला सहकारी बैंक के प्रबंधक को निर्देशित करते हुये कहा कि अधिक से अधिक किसानों को ऋण उपलब्ध कराया जाये तथा जिनका पंजीयन नहीं है उनका पंजीयन कर केसीसी बनाये।

कलेक्टर श्री सिंह ने मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना के तहत गांवों की पड़त भूमि पर वृक्षारोपण को बढ़ावा देने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि सरकार की इस योजना से प्रति एकड़ भूमि पर वृक्षारोपण करने पर 10 हजार रुपये प्रतिवर्ष आदान सहायता के रूप में तीन साल तक मिलेगी। उन्होंने गांव में पंचायत तथा वन प्रबंधन समिति के माध्यम से पड़त भूमि पर वृक्षारोपण करवाने के निर्देश दिये। इसके साथ ही किसानों द्वारा उनकी निजी भूमि पर भी वृक्षारोपण को प्रोत्साहित करने के निर्देश दिये। उन्होंने बताया कि इस कार्य में वन विभाग द्वारा तकनीकी सहायता प्रदान की जायेगी। उद्यानिकी विभाग को भी इस योजना के तहत फलदार वृक्षों का रोपण करवाने के लिये कहा। उन्होंने वन विभाग को योजना से संबंधित हेल्प लाईन नंबर जारी करने के निर्देश दिये।

कलेक्टर श्री सिंह ने गोधन न्याय योजना की समीक्षा करते हुये कहा कि जिन नये 21 गौठानों में खरीदी प्रारंभ कर ली गई है वहां वर्मी पिट निर्माण का कार्य जल्द पूरा करें। उन्होंने सभी सहकारी समितियों में किसानों की सुविधा के लिये वर्मी कम्पोस्ट रखवाने के निर्देश दिये। बाहर रखे गोबर को डिकम्पोजर डालकर सुपर कम्पोस्ट बनाने के लिये कहा। जिन गौठानों में शेड निर्माण नहीं हुआ है वहां जल्द शेड बनवाने के निर्देश दिये। उन्होंने जिन गांवों में गौठान स्वीकृत हो चुके है तथा भूमि का चिन्हांकन हो चुका है वहां जल्द गौठान शुरू करने के निर्देश दिये।

कलेक्टर भीम सिंह ने कोविड की तीसरी लहर से निपटने के लिये की जा रही तैयारियों के मद्देनजर एमसीएच में सभी बेडो को ऑक्सीजनेटेड करने तथा ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने का कार्य शीघ्र प्रारंभ करने के निर्देश दिये। उन्होंने बच्चों के उपचार की दृष्टि से नियो नेटल तथा पिडियाट्रिक आईसीयू, मास्क, अन्य मशीनें व संसाधन के साथ आवश्यक दवाईयों की समुचित व्यवस्था रखने के निर्देश दिये। मेडिकल कालेज के ग्राउण्ड फ्लोर पर ऑक्सीजन पाईप लाईन का काम पूरा किया जा चुका है। कलेक्टर श्री सिंह ने इसकी टेस्टिंग ट्रायल करने के निर्देश दिये। साथ ही यहां एसी इस्टालेशन का काम भी जल्द पूरा करने के लिये कहा। कलेक्टर श्री सिंह ने सभी एसडीएम, सीईओ जनपद तथा सीएमओ को कोरोना गाईड लाईन का पालन करवाने तथा मास्क जांच अभियान लगातार चलाने के निर्देश दिये।

बैठक के दौरान मुख्यमंत्री जनदर्शन तथा पीजी पोर्टल के लंबित प्रकरणों की समीक्षा कलेक्टर श्री सिंह ने की। उन्होंने प्रकरणों को दो माह के भीतर निराकृत करने के निर्देश सभी अधिकारियों को दिये। साथ ही कलेक्टर जनचौपाल के गैर निराकृत प्रकरणों को भी उन्होंने जल्द पूरा करने के लिये कहा।

इस दौरान एडीएम राजेन्द्र कटारा, सीईओ जिला पंचायत डॉ.रवि मित्तल, डीएफओ रायगढ़ प्रणय मिश्रा, डीएफओ धरमजयगढ़ मणिवासगन एस, अपर कलेक्टर आर.ए.कुरूवंशी, नगर निगम आयुक्त आशुतोष पाण्डेय, सीएमएचओ डॉ.एस.एन.केशरी सहित जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें