जशपुरनगर |  कलेक्टर महादेव कावरे ने आज विकासखंड दुलदुला के ग्राम पंचायत चापाटोली के काईकछार स्थित सेनेटरी नैपकिन निर्माण केन्द्र एवं रायटोली स्थित काजू प्रसंस्करण केन्द्र का निरीक्षण कर केन्द्र में संचालित गतिविधियों के संबंध में जानकारी ली। कलेक्टर ने सभी समूह की महिलाओं को आगे भी इसी प्रकार मेहनत करने एवं उन्नति करने के लिए प्रोत्साहित करते हुए अपनी शुभकामनाएं दी।

कलेक्टर ने कार्यरत गुलाब स्व-सहायता समूह की महिलाओं से सेनेटरी निर्माण एवं अब तक विक्रय से हुए लाभ के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि ग्रामीण महिलाओं, आश्रम छात्रावास में अध्ययनरत छात्राओं को उपलब्ध कराने के लिए समूह के माध्यम से बनाए जा रहे सेनेटरी नैपकिन को गुणवत्तायुक्त बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्धारित दर पर ही नैपकिन का विक्रय करने कहा । जिससे हर वर्ग की महिलाएं एवं छात्राएं इसका उपयोग कर सके।

इस दौरान उन्होंने रायटोली स्थित काजू प्रसंस्करण केन्द्र का मुआयन किया। उन्होंने केन्द्र में कार्यरत समूह की महिलाओं से अब तक उत्पादित किए गए काजू की मात्रा, विक्रय तथा उससे होने वाले आमदनी एवं काजू के प्रोसेंसिंगके संबंध में विस्तार से जानकरी ली।
समूह की महिलाओं ने बताया कि केन्द्र में 8 से 10 महिलाएं कार्यरत है जिनके द्वारा काजू की प्रोसेसिंग, पैकेजिंग सहित अन्य कार्य किया जा रहा है। केन्द्र में एक सीजन में लगभग 10-12 क्विंटल काजू की प्रोसेसिंग की जाती है। समूह की महिलाओं ने बताया कि एक सीजन में केन्द्र के द्वारा लगभग 8 से 10 लाख रूपए का काजू विक्रय किया जाता है। जिससे उन्हें अच्छा मुनाफा होता है। उल्लेखनीय है कि जशपुर जिले में उत्पादित काजू की बेहतर गुणवत्ता को देखते हुए इसकी मांग जिले ही नहीं अपितु जिले के बाहर भी हो रही है। इस अवसर पर केन्द्र से जुड़ी महिलाएं सहित अन्य कर्मचारी उपस्थित थे।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें